D.pharma and B.pharma course क्या है, कैसे करें ?

D.pharma and B.pharma course यदि आप फार्मासिस्ट बनना चाहते है। तो आप इन दोनों कोर्स में से कोई एक course आपको जरूर करना पड़ेगा।
एक अच्छा कैरियर बनाने के लिए लोग क्या-क्या नहीं करते हैं यदि आप बायोलॉजी के स्टूडेंट हैं और फार्मासिस्ट में अपना कैरियर बनाना के बारे में सोच रहे हैं तो आपके लिए डी फार्मा का बी फार्मा कोर्स बहुत ही अच्छा रहेगा


D.pharma and B.pharma course क्या है। कैसे करें ?

डी फार्मा बी फार्मा कोर्स एक फार्मेसी कोर्स जिसे आप पायो के स्टूडेंट है तो आसानी से कर सकते हैं

योग्यता क्या होनी चाहिए (Eligibility D.pharma and B.pharma)

Science stream का कोई भी छात्र जिसने physics, chemistry, Biology  से 12वी बोर्ड की परीक्षा किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से पास की हो इस कोर्स को करने के लिए eligible होता है कई कॉलेज तो सिर्फ PCB वाले छात्रों को ही प्राथमिकता देते है |

D.pharma course क्या है कैसे करे?

D.pharma का full form है Diploma in Pharmacy. 
ये 2 year का कोर्स होता है जिसमें आपको डिप्लोमा सर्टिफिकेट प्रदान किया जाता है।
यदि आप चाहते है मेडिकल खोलना या दवाओं का बिज़नेस तो D.pharma आपके लिए best रहेगा।
D.pharma करने के बाद आप दवाओं का वितरण कर सकते है। यदि आप चाहते है अपना खुद का एक मेडिकल store kholna तो आप इस course के बाद खोल सकते है।

D.pharma course कैसे करें ?

D. pharma करने के 2 रास्ते है 1- Private 2- Government.
यदि आपको private में d. pharma का कोर्स करना है तो जहा भी आप करना चाहते हो। वहा पर किसी भी private कॉलेज में एडमिशन करा सकते हो य
आप कॉलेज का सजेशन नहीं कर पा रहे हो तो नीचे कमेंट करके अपना सिटी और स्टेट कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं।
यदि आप चाहते हो किसी गवर्नमेंट कॉलेज में बी फार्मा का कोर्स करने के लिए तो आपको उसके लिए फॉर्म ऑनलाइन अप्लाई करना पड़ेगा जिससे आपको गवर्नमेंट कॉलेज सजेस्ट करके दिया जाता है और आप वहां से डी फार्मा कोर्स को कंप्लीट करके सर्टिफिकेट ले सकते हैं।

डी फार्मा कोर्स सिलेबस

प्रथम वर्ष- 
दूसरे वर्ष

B.pharma course क्या है कैसे करे ?

B.Pharma का full form BACHELOR OF PHARMACY होता है।
एकोष 4 साल का और 8 सेमेस्टर का होता है। Bachlar of pharmacy जिसे B.pharma कहते है। b.pharma 4 साल का अंडर ग्रेजुएशन कोर्स है।

B.pharma course kaise kare ?

जीव बिग्ज्ञान se 12 th class उत्तरीन करने के बाद ए कोर्स पूरा करने के बाद आपको बैचलर ऑफ फार्मेसी का डिग्री प्राप्त हो जाता है जिसके बाद आप भारत के मेडिकल फार्मासिस्ट बन जाते हैं।

B.pharma Syllabus

बी फार्मा की सेलेब्स की बात करे तो सामान्यत: सभी कॉलेज में यूनिवर्सिटी के आधार पर syllabus अलग अलग होता है लेकिन फिर भी सभी कॉलेज में विषय एक जैसे होते है जो सेमेस्टर बदलने पर बदलते रहते है |
प्रथम वर्ष में-
Human Anatomy
Physiology
Dispensing and General Pharmacy
Pharmaceutical Chemistry (Organic, Inorganic and Physical) विषय होते है |
दुसरे वर्ष में -

  • Health Education 
  • Clinical Chemistry 
  • Biochemistry 
  • Pharmaceutical Analysis 
  • Advanced Organic Chemistry 
  • Pharmaceutics 
  • Molecular Biology 
  • Mathematics होते है |

तीसरे वर्ष में -

  • Industrial Management 
  • Computer Applications 
  • Pharmacology 1
  • Chemistry of Natural Products विषय होते है  

चौथे और अंतिम वर्ष में -

  • Pharmacy Practice 
  • Pharmaceutical Analysis (Advanced) 
  • Pharmaceutics (Advanced) 
  • Pharmacology 2 विषय होते है | 

चौथे वर्ष में आपको एक प्रोजेक्ट वर्क भी सबमिट करवाना होता है जो अलग अलग कॉलेज में अलग अलग होता है |

Labels: