मेडिक्लेम क्या है Medical Insurance Policy Term And Condition की जानकारी ?

मेडिकल बीमा (Medical Insurance) हर व्यक्ति के जीवन मे सबसे महत्वपूर्ण Policy है कब और कहा आपको अपने स्वास्थ्य के लिए कितना रुपयों की जरूरत पड़ जाय, इसका कुछ पता नहीं। अस्पतालों के बढ़ते खर्चो को देखते हुए स्वास्थ्य बीमा आज के समय मे एक अहम जरूरत बन गया है। आजकल India में कई प्रकार के Medical इन्शुरन्स मौजूद है। लेकिन इन बीमा को खरीदते समय आपको कुछ सावधानियां बरतने की जरूरत है।

Mediclam-health-insurance-in-hindi


सभी लोगो की यही इच्छा रहती है कि वह कभी बीमार न पड़ Hospital के चक्कर न लगाने पडे़ं। यह स्वाभाविक है और बीमार न पड़ने का उसे अधिकार भी है। परंतु आज की जीवनशैली उसे बीमार पड़ने के लिए मजबूर करती है। वातावरण में बढ़ता प्रदूषण, आम रास्तों पर निरंतर बढ़ती भीड़, दुर्घटना, मिलावट युक्त पदार्थ, सामाजिक लापरवाही आदि अनेक बातों का स्वास्थ्य पर प्रत्यक्ष तथा अप्रत्यक्ष रूप से असर पड़ता रहता है। ऐसी स्थिति में शारीरिक तथा मानसिक स्वास्थ्य का जोखिम बहुत अधिक बढ़ गया है।


हमारे लाख चाहने के बावजूद बीमारी तथा अस्पताल से बचकर रहना नामुमकिन है। इसलिए इस समस्या से टक्कर लेने की पूरी तैयारी रखनी चाहिए। “Mediclaim Policy” या स्वास्थ्य बीमा इस बड़ी समस्या का एक प्रभावी समाधान है। बीमार पड़ना, अस्पताल में भरती होना, उसके बाद बेतहाशा खर्च से उबारने वाला साधन आरोग्य बीमा ही है। अस्पताल का बढ़ता खर्च किसी एक के नियंत्रण में नहीं है।


Specialist डॉक्टरों की Fees, विभिन्न जाँचों का खर्चा, दवाई तथा अस्पताल का खर्चा कम होने बात सोचना भी मुर्खता है। दुर्घटना और बीमारी हमेशा अचानक आती हैं। परिवार में किसी भी सदस्य को कभी भी इन समस्याओं से सामना करना पड़ सकता है

Mediclam क्या है 

Mediclaim Insurance Policy को रिइंबर्समेंट Policy कहा जाता है। यह अस्पताल में भरती हो जाने पर आने वाला खर्च वापस मिलने की सुविधा की Policy है। तीन महीने के शिशु से लेकर 80 year के वरिष्ठ नागरिक तक कोई भी इसे खरीद सकता है। 18 वर्ष से कम उम्र के बालक-बालिकाओं को यह Policy अपने माता पिता या Nominee के साथ मिल सकती है। इस तरह की Mediclam Policy में मरीज को पहले इलाज का बिल चुकाना पड़ता है तथा बाद में उसे वह राशि Bill Clam करने के बाद वापिस दे दी जाती है |
प्रत्येक व्यक्ति को चाहिए कि अपनी क्षमता के अनुसार स्वयं के लिए तथा परिवारजनों के लिए एक कारगर आर्थिक व्यवस्था बनाए रखे। अपनी युवावस्था में, कमाई के दौरान स्वास्थ्य जोखिमों से पार पाने के लिए स्वास्थ्य बीमा जरुर खरीद लें। यह जरुरी नहीं है की आप कोई बड़ी महंगी मेडिक्लेम पॉलिसी खरीदे आप अपनी क्षमता के अनुसार छोटी पॉलिसी भी खरीद सकते है |

Medical Insurance Term and Conditions क्या है?

1. स्वास्थ्य बीमा लेते समय इस बात का ध्यान रखे कि यदि आप पहले से किसी प्रकार की बीमारी जैसे डायबिटीज, अस्थमा से पीड़ित है। तो इस बात का खुलासा जरूर करें। यदि आपने ऐसा नही किया है तो Clam के वक़्त आपको उस बीमारी का भुगतान नही किया जाएगा। बीमा लेते समय बताई गई मौजूद बीमारी केवल 3-5 वर्षो तक ही कवर की जाएगी। इसके अलावा कुछ ऐसी Policy भी है। जो पहले से मौजूद बीमारियों को कवर करती है।

2. हर साल आपकी Policy की समीक्षा और Renew किया जाता है। हालांकि पहले वर्ष से ही आपकी Policy प्रभावि मानी जाती है। जो हर साल उसी समय भुगतान के बाद Renew होती है।लेकिन Renew होते समय आपके पुछले वर्ष हुये Clam को Check किया जाता है। और उसी के अनुसार आपकी प्रीमियम की दरें बढ़ भी सकते है।

3. जड़ उम्र के लिए Medical Policy का Premium, कम उम्र वाले व्यक्ति का Premium से ज्यादा होता है। जिसे Loding कहा जाता है। Example- यदि आप अपने 35 से 40 उम्र में किसी स्वास्थ्य बीमा की सुरुआत की है। तो आपको उसका प्रीमियम 25 से 30 की उम्र में सुरुआत करने वाले व्यक्ति के मुकाबले ज्यादा करना होगा।

4. यदि आपने अस्पताल में 24 घंटे से ऊपर समय बिताया है तो ही आप मेडिक्लेम कर पाएंगे। Day Care Process या दूसरे सब्दो में कहे तो यदि आपका इलाज 24 घंटे से पहले पूरा हो गया तो आप इस इलाज का Mediclam नही कर सकते ।

5. आम तौर पर अधिकतर मेडिकल बीमा प्रदाता ऐसे है। जो मेटरनिटी इन्सुरेंस को कवर से बचते है। यदि ये वह सुबिधा भी देते है। तो वे इसकी एक सीमा निर्धारित करते है। जिसके अंतर्गत आपको उसका भुगतान आपकी Premium देने के साल बाद मिलता है।

Indian Hindi Tech News के लिए Hindihelp4u पर Visit करें

Post a Comment

0 Comments