Physiotherapy B.P.T क्या है, BPT Course कैसे करें ?

Hello Students आज हम आपको BPT Course के बारे में बताने वाले है अगर आप BPT कोर्स करने के बारे में सोच रहे है तो हम आपको इस जानकारी में BPT क्या है BPT Course कैसे करें। पूरी Details बताने वाले है।



जब भी आप कोई Course करने के बारे में सोचते है तो आप उसकी पूरी Details जानने की कोसिस करते है और ठीक है अगर आप कोई भी Course करें तो उसके बारे में पूरी जैसे Year, Fees, Syllabus, Jobs जानकारी जरूर पता कर ले, चलिये सबसे पहलेे जान लेते है


BPT Course Kya hai

Hello Students BPT यानी कि Bachlar of physiotherapy यह एक Under Graduate Degree Course है जो 4 Year Course होता है। BPT नाम कहते है और ये एक Medical Course है। जो Science Bio के Student कर सकते है।
सबसे अच्छी बात BpT यानी कि फिजियोथेरेपी Course Complete करने के बाद आप अपने नाम के आगे Dr. लगा सकते है। जैसे आपका नाम Ajit है तो आप Dr. Ajit Physiotherapist लिख सकते है।


BPT Full Form

BPT का फुल फॉर्म Bachlar of physiotherapy है जो एक Medical Bio Course है।

BPT Course कैसे करें, फिजियोथेरेपी BPT में Addmission कैसे करें ?

BPT यानी को फिजियोथेरेपी Course करने के लिए आपको कही न कही Admission तो करवाना ही होगा चलिये उसके लिए भी जान लेते है BPT Course करने के लिए Process क्या है।
  • BPT में Addmission के लिए आपको 12th पास करना होगा Science के Bio से जिसमे Physics, Chemistry Biology के Subject होते है।
  • जिसके बाद आपको BPT में 12th Science Merit और प्रवेश परीक्षा देने होगा प्रवेश परीक्षा में अंको के हिसाब से Condidate को Select करके सीटे दी जाती है 
  • कुछ College में 12th के न्यूनतम Marks में भी Addmission किया जाता है जिसके लिए PCB (Physics Chemistry और Biology) के मात्र 50% में भी Addmission

BPT Course Syllabuus ?

Syllabus for BPT Course की बात करें तो आप यहाँ BPT का पूरा Sallybus देख सकते है।
Semester I

  • Anatomy
  • Physiology
  • Biochemistry
  • English
  • Basic Nursing

Semester II

  • Biomechanics
  • Psychology
  • Sociology
  • Orientation to Physiotherapy
  • Integrated Seminars

 First-year Practical Subjects

  • Orientation to Physiotherapy
  • Physics and chemistry

Semester III

  • Pathology
  • Microbiology
  • Pharmacology
  • First Aid & CPR
  • Constitution of India

Semester IV

  • Exercise Therapy
  • Electrotherapy
  • Research Methodology & Biostatics
  • Introduction to Treatment
  • Clinical Observation Posting

Second Year Practical Subjects

  • Basic Nursing, First Aid & CPR
  • Clinical Observation Posting
  • Introduction to Treatment

Semester V

  • General Medicine
  • General Surgery

Semester VI

  • Orthopedics and Sports Physiotherapy
  • Supervised Rotatory Clinical Training

Third-Year Practical Subjects

  • Physiotherapy in Dentistry
  • Evidence Based Physiotherapy Practice

Fourth Year Topic subjects

  • Neurology
  • Neurosurgery
  • Medical ethics
  • Physiotherapy in Cardio disorders
  • Physiotherapy in respiratory disorders
  • Project

Physiotheripist करते क्या है ?

अगर आपने BPT यानी कि एक फियोथेरिपिस्ट बनने के बारे में सोच ही लिया है तो आपको ये भी जान लेना चाहिए कि फियोथेरिपिस्ट क्या करते है। यदि आप सोच रहे है कि Surgury या फिर बीमारियों को Check करने के बारे में तो आप गलत है Physiotheripist ऐसा कुछ नही करते इनका काम होता है Pain Releif का यानी कि आपको पता ही होगा आजकल लोग Body के Pain जैसे Backpain, घुटनो में दर्द, जोड़ो में दर्द, हाथ के या शरीर के किसी भी जोड़ या अंग में होने वाले दर्द का निवारण करते है ऐसा करने के लिए कुछ आधुनिक मशीनों का उपयोग किया जाता है

BPT Course Fees (BPT Course करने के Fees)- 

BPT Course के लिए अलग अलग College के अनुसार अनुमानित फीस 1,00,000 से 5,00,000 तक हो सकता है।


BPT कर लिए Sallary ?

अगर BPT Sallary की बात करें तो अलग अलग जॉब Profile यानी कि पद के अनुसार 2,00,000 To 5,00,000 INR हो सकता है
BPT में Fresher को 5,000 से 7,000 Monthly कमा सकते है और but यदि आप एक फियोथेरिपिस्ट है तो mothly 7,500 से 10,000 तक कि Sallary पा सकते है।

BPT Jobs Profile (BPT Course करने के बाद नोकरी )-

अगर आप BPT Course को Complete कर लेते है तो आपको निम्न क्षेत्र में रोजगार (Jobs) पा सकते है।

  • Hospital
  • Orthropodic Department
  • Government Hospital
  • NGO
  • Personal Hospital and Clinics
  • Zym and Fitness Centre
और आपको इन क्षेत्रों में कई पद पा सकते है जैसे-

  • Self Private Physiotherapist
  • Therapy Manager
  • Lecturer
  • Osteopathic
  • Researchers


Post a Comment

4 Comments