अतिसार क्या है प्रकार,,कारण एवं इलाज क्या है (What is Diarrhea in Hindi)

हिंदी लाइफ केयर की इस साइड में आज हम आपको बताएंगे डायरिया के बारे में डायरिया क्या है डायरिया के प्रकार डायरिया के कारण डायरिया के लक्षण और डायरिया के कुछ घरेलू उपाय दरिया में हमें क्या खाना चाहिए क्या नहीं खाना चाहिए इसके बारे में भी हम आपको इस जानकारी में बताएंगे
Diarrhea-kya-hai-hindi

डायरिया एक आम बीमारी है लेकिन एक थोड़ा गंभीर समस्या हो जाती है गर्मी और बरसात के मौसम में इसका पुर को सबसे ज्यादा होता है इसके पीछे अहम कारण गंदगी है लगभग हर किसी ने अपने जीवन में कभी न कभी डायरा का सामना किया


Topics-डायरिया की रोकथाम,डायरिया की परिभाषा, डायरिया के कारण, डायरिया की रोकथाम, बच्चों के डायरिया, बच्चों में डायरिया का उपचार, दस्त के प्रकार, दस्त परिभाषा,दस्त का कारण बनता है, डायरिया किसे कहते हैं, डायरिया की परिभाषा क्या है, कोल्ड डायरिया ट्रीटमेंट,डायरिया in english, डायरिया वीडियो

डायरिया क्या है प्रकार लक्षण एवं उपचार

अतिसार क्या है (What is Diarrhea)

डायरिया अगर किसी व्यक्ति को लूज मोशन या बार बार बाथरूम जाना पड़े उसके साथ दस्त जाने की उल्टी भी लगातार हो रही हो तो या डायरिया हो सकता है नोरोवायरस व संक्रमण दस्त के कारणों में से एक हैं
डायरिया की समस्या आम भी होती है और खतरनाक भी होती है कुछ मामलों में दस्त सिर्फ कुछ दिन तक रहता है और कुछ मामलों में 10 जान के लिए खतरा भी बन सकता है डायरिया को अधिक समझने के लिए हम इसके प्रकार के बारे में जान लेते हैं

डायरिया के प्रकार ( Type of Diarrhea)

डायरिया तीन प्रकार के होते हैं इनके बारे में बाप को नीचे इस जानकारी में बताएंगे
  1. पानी जैसे दस्त एक्यूट बैटरी डायरिया-यह कई घंटों या दिनों तक रह सकता है यह काल कालरा संक्रमण के कारण भी हो सकता है
  2. दस्त में खून (एक्यूट ब्लडी डायरिया)-इसमें पानी जैसा माल आता है लेकिन मल के साथ खून भी आता है इसे पर्ची सीखा जाता है
  3. लगातार होने वाले दस्त (प्रेसिडेंट डायरिया)-यह 14 दिन या उससे अधिक दिनों तक रहते हैं

अतिसार होने के कारण

डायरिया के लक्षण (Diarrhea Symptoms)

डायरिया के लक्षण के बाद करे तो कई बार दस्त बिना इलाज के अपने आप ठीक हो जाते हैं लेकिन कुछ मामलों में चिकित्सा की जरूरत होती है बेहतर है कि वक्त रहते इस पर ध्यान दिया जाए अगर डायरिया का इलाज सही तरीके से करना है
तो पहले डायरिया के लक्षण के बारे में जानना जरूरी है ताकि इसका सटीक इलाज हो सके डायरिया के कारण बताने के बाद अब आप हम आपको डायरेक्ट लक्षण बता देते हैं
यह सब डायरिया के अहम लक्षण हैं

अतिसार के रोकथाम के लिए घरेलू उपचार

दरिया के इलाज के लिए आप घर पर ही इसका इलाज कर सकते हैं वह रस घोल बनाकर चलिए इस जानकारी में हम जान लेते हैं वह घोल कैसे बनाएं
दोस्तों और फूल बनाने के लिए सबसे पहले आपको 1 लीटर पानी को उबाल लेना है उबले हुए पानी को गुनगुना होने पर उसमें 6 चम्मच चीनी और एक चम्मच नमक डाल कर अच्छे से मिला देना
उबले हुए गुनगुने पानी में चीनी और नमक का चित्र से मिल जाने के बाद अब आपको जितनी बार लूज मोशन होता है उसके ठीक बाद आपको इसे पीना है

नारियल

डायरिया के लिए नारियल पानी बहुत ही लाभदायक होता है इसके लिए आपको ताजा एक गिलास नारियल का पानी रोजाना पीना होना पीना होगा
नारियल का पानी ऑफिस शरीर में रिहाइड्रेशन स्तर को संतुलित बनाता है रेड एरिया में रिहाइड्रेशन की रिकवरी हो जाती है इस तरीके का उपयोग गंभीरी हाइड्रेशन दत्त के लक्ष्मण के उपचार के लिए उपयोग नहीं किया जाना चाहिए कुलरिया किडनी की समस्या में भी इसका उपयोग नहीं करना चाहिए

ग्रीन कच्चा केला

डायरिया होने पर आप कच्चा केला इसमें ना हल्का सा नमक मिलाकर खा सकते हैं
 दरिया में अब चावल का पानी पके हुए चावल के पानी को छानकर डायरा के दौरान लूज मोशन में तुरंत बाद आधा किला का चावल का पानी पिए

डायरिया में क्या खाना चाहिए

हम आपको बताएंगे डायरिया में क्या खाना चाहिए डायरिया में आप

डायरिया में क्या नहीं खाना चाहिए

ऊपर हमने बताया डायरिया में क्या खाना चाहिए इसी के साथ चलिए अभी जान लेते हैं डायरिया में हमें क्या नहीं खाना चाहिए

अतिसार यानी कि डायरिया से बचाव के लिए क्या करें

डायरिया के कारण लक्षण घरेलू उपाय जानने के बाद अब हम जान लेते हैं डायरिया में क्या बचाव करना चाहिए जिससे में डायरिया से बच सकें
डायरिया की ज्यादा समस्या होने पर आप नजदीकी डॉक्टर से जरूर संपर्क करें क्योंकि अगर डायरिया का वक्त रहते ध्यान ना दिया जाए तो यह गंभीर रूप से ले सकता है
हाला के ऊपर बताए गए घरेलू उपाय का पालन करके आप कुछ हद तक डायरिया को कंट्रोल कर सकते हैं लेकिन अधिक स्थिति खराब होने पर आपको अपने नजदीकी डॉक्टर से जरूर सलाह लेना चाहिए

Labels: